October 25, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

दस साल पहले लापता बच्ची का अब मिला सुराग


राँची:- लोहरदगा जिले के सेन्हा थाना क्षेत्र के तोड़ार गांव से 10 साल पहले लापता हुई बच्ची का सुराग लगा है। इस बात को लेकर परिजनों में काफी खुशी है। अब परिजन बच्ची के घर आने का इंतजार कर रहे हैं। तोड़ार निवासी रामप्रसाद उरांव की पुत्री करिश्मा कुमारी 10 साल पहले कक्षा 5 की छात्रा थी। वह विद्यालय से पढ़कर घर लौट रही थी कि रास्ते से छात्र लापता हो गई। यह घटना 10 वर्ष पूर्व की है। गुमशुदा बच्ची को परिजनों ने काफी खोजबीन की। नौ साल तक बच्ची का किसी तरह का सुराग नहीं मिलने पर परिजनों द्वारा सेन्हा थाना को बच्ची के लापता होने की सूचना एक वर्ष पूर्व आवेदन दी गई। परिजनों ने अपने बेटी के गुम होने व समय और काफी समय बीत जाने पर परिवार वाले बच्ची के मिलने की आस छोड़ चुके थे। खुफिया विभाग की सूचना पर परिजनों में खुशी की लहर दौड़ गई है। अब परिजनों को बेटी के घर वापसी का इंतजार है। गाजियाबाद के ए884 गौल होम गोविन्दपुरम निवासी डा. अरुण कुमार पांडेय ने उस बच्ची के परिजनों को खोजने में अहम भूमिका निभाई है। लोहरदगा खुफिया विभाग का नंबर उपलब्ध कराकर लापता बच्ची को उसके परिजनों से मिलाने का बीड़ा उठाया। अरूण कुमार पांडे के पास बच्ची तीन वर्ष से रह रही है।

Recent Posts

%d bloggers like this: