October 24, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

तुर्की के हैकर ने बिहार शिक्षा विभाग के वेबसाइट को पाँच घंटे तक किया हैक, लिखा वी लव यू पाकिस्तान

पटना:- बिहार के शिक्षा विभाग की वेबसाइट को रविवार को 5 घंटे तक हैक कर उस पर पाकिस्तान के समर्थन में बातें लिखी गईं। विभाग की वेबसाइट पर तुर्की के हैकर ने लिखा- ‘वी लव यू पाकिस्तान। … योर पावर इज नॉट एनफ टू स्टॉप मुस्लिम्स।’ यानी, ‘तुम्हारी ताकत नहीं कि मुसलमानों को रोक सको।’

कश्मीर से धारा 370 और 35 ए हटाने के बाद से सीमा पार बैठे अवांछित तत्व, भारत विरोधी गतिविधियों को अंजाम देने की लगातार कोशिश में है। शिक्षा विभाग की वेबसाइट को हैक करना भी इसी की कड़ी मानी जा रही है। हालांकि, जांच के बाद ही इसके असली जिम्मेदार और उनके स्पॉट सामने आएंगे ।

बहरहाल, वेबसाइट हैक होने की सूचना मिलते ही शिक्षा विभाग के अधिकारियों में हड़कंप मच गया। आईटी मैनेजर को सूचना देकर सर्वर डाउन कराया गया। शाम साढ़े छह बजे वेबसाइट सामान्य हुई। शिक्षा विभाग के अधिकारी इस बारे में साइबर विशेषज्ञों से सलाह ले रहे हैं। साइबर क्राइम का केस दर्ज कराने की तैयारी है। शिक्षा विभाग के प्रवक्ता अमित कुमार ने बताया कि सोमवार को कार्यालय खुलने के बाद अपर मुख्य सचिव के निर्देश पर केस दर्ज कराया जा सकता है।

हैकिंग के दौरान शिक्षा विभाग की साइट के हर पेज पर पाकिस्तान के समर्थन की लाइनें ही लगातार दोहरायी गईं। सिर्फ दो लाइनें थीं- ‘वी लव यू पाकिस्तान। … योर पावर इज नॉट एनफ टू स्टॉप मुस्लिम्स।’ हैकर, खुद को टर्की का बता रहा था। लिखा था-‘हैक्ड बाई रूट अय्याडीज टर्कीस हैकर।’ इस बात की छानबीन जारी है कि वाकई, कहां से इस वेबसाइट को हैक किया गया? साइट, दोपहर डेढ़ बजे दिन में हैक हुई। इसके पहले भी कई विभागों की साइट हैक हो चुकी है। आईटी डिपार्टमेंट की भी साइट हैक हुई थी।

इस मामले की जांच आईटी व एनआईसी (नेशनल इंर्फोमेटिक सेंटर) करेगी। कहां से मैसेज आया है? कोई बाहरी कैसे वहां तक पहुंचा? … समेत अन्य पहलुओं पर जांच में जो गड़बड़ी मिलेगी, उसे ठीक किया जाएगा। सूत्रों के मुताबिक अगर कोई गंभीर बात होगी तो साइबर सेल में एफआईआर दर्ज कराई जाएगी या एनआईए को केस सौंपा जा सकता है। दरअसल शिक्षा विभाग या अन्य दूसरे सरकारी महकमों की वेबसाइट व सर्वर को एनआईसी या आईटी डिपार्टमेंट हैंडल करता है।

Recent Posts

%d bloggers like this: