October 25, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

प्यार में धर्मांतरण का धोखा…युवती का धर्म बदलवाकर किया निकाह, फिर दे दिया तीन तलाक

रांची:- बेड़ो में रहने वाली एक महिला ने राजमहल के महियाल निवासी अबुल कैश उर्फ सोनू उर्फ काजू के खिलाफ धर्मांतरण कर निकाह करने और अब तीन तलाक देकर छोड़ देने का आरोप लगाया है। इसे लेकर बेड़ो थाने में एफआइआर दर्ज कराई गई है। महिला ने एफआइआर में कहा है कि अबुल कैश ने खुद को हिंदू बताकर उससे दोस्ती की थी और बाद में निकाह कर उसका धर्मांतरण करा दिया।
विवाह से पहले अबुल कैश ने अपना नाम सोनू बताया था। 2013 में युवक से उसकी दोस्ती रांची में एक संस्था में नौकरी के दौरान हुई थी। पीड़िता ने प्राथमिकी में कहा है कि अबुल कैश उसे बुरका पहनाकर डोरंडा मनीटोला निवासी शहर काजी कारी जान मोहम्मद के पास ले गया और वहां निकाह के नाम पर धर्मांतरण करा दिया गया। इसके बाद उसके नाम के आगे परवीन जोड़ दिया गया।
फिर अबुल कैश ने कहा कि तुम अब मुसलमान हो गई है। महिला के अनुसार इसके बाद उसे प्रतिबंधित मांस भी खिलाया गया। उसने इस घटना के पहले आरोपित युवक द्वारा नशा खिलाकर दुष्कर्म किए जाने का भी आरोप लगाया है। महिला के अनुसार नशे में अचेत अवस्था में उसके साथ किए गाए दुष्कर्म की घटना की किसी दूसरे युवक ने अश्लील वीडियो भी बना ली थी। उसी वीडियो को दिखा ब्लैकमेल कर पांच सालों तक उसका यौन शोषण किया गया। इतना ही नहीं इस दौरान उसे दूसरे व्यक्ति के साथ भी शारीरिक संबंध बनाने को मजबूर किया गया। पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

पीड़िता और आरोपित रांची के अशोकनगर में स्थित जिस संस्था में काम कर रहे थे वह संस्था किसी मामले में आरोपों से घिरने के बाद वर्ष 2014 में बंद हो गई। इसके बाद सोनू वर्ष 2016 में पीड़िता को दिल्ली के जहांगीरपुरी ब्लॉक-सी ले गया और वहां शारीरिक शोषण करता रहा। अपने साथ किसी अन्य व्यक्ति को भी लाकर शारीरिक शोषण कराता था। वहीं प्रतिबंधित मांस भी खिलाया।

जब तबीयत बिगड़ती थी तो पीड़िता को बेड़ो स्थित उसके गांव छोड़ जाता था। साथ ही धमकी देता था कि किसी को कुछ बताया तो सैकड़ों बैनर पोस्टर बनकर तैयार है। वीडियो भी बनाकर रखा है, उसे वायरल कर देंगे। 24 मई 2019 को वह पीड़िता को दिल्ली में ही छोड़कर कर कहीं चला गया। इसके बाद वह 19 जून को अपने गांव लौट गई और फिर 22 जून को राजमहल के महियाल गांव पहुंची। उस समय आरोपित सोनू उर्फ अबुल कैश अपने घर मे नहीं था। घरवालों ने यह कहते हुए निकाल दिया कि वे उसे कबूल नहीं कर सकते, क्योंकि कैश ने अब दूसरी शादी कर ली है।

पीड़िता सोनू उर्फ काजू उर्फ अबुल कैश को ढूंढती फिर रही थी। इस बीच वह 27 जुलाई को काटाटोली स्थित एक किराए के मकान में मिला। वहां पीड़िता अपने भाई और मां के साथ पहुंची थी। यहां कैश ने परिजनों के सामने अपमानित किया और तीन बार तलाक, तलाक, तलाक कह कर भगा दिया। इसके बाद 18 अगस्त को पीड़िता रविवार को बेड़ो थाना पहुंची और प्राथमिकी दर्ज कराई।

Recent Posts

%d bloggers like this: