October 22, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

अंधविश्वास के चक्कर में दो महिलाओं की हत्या

राँची :- गढ़वा जिले के रमना और लातेहार जिले के बालूमाथ थाना क्षेत्र में अंधविश्वास के फेर में दो महिलाओं की हत्या कर दी गई। रमना में घटना सपही गांव के बजनवा टोला में झाड़फूंक के दौरान हुई। मृतका की पहचान भवनाथपुर थाना क्षेत्र के कोनमंडरा गांव की रूदनी देवी (60) के रूप में हुई है। मृतका के पुत्र विनेश ने थाने में आवेदन देकर कहा कि अलमा देवी नामक महिला ने झाड़फूंक के दौरान त्रिशूल घोंपकर उसकी मां रुदनी की हत्या कर दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी अलमा और उसके पति सत्येंद्र उरांव को गिरफ्तार कर लिया है।बताया जा रहा कि रूदनी बीमार थी। उसकी तीनों बहुएं 15 अगस्त को झाड़फूंक के लिए अलमा देवी के पास ले गई थीं। 17 अगस्त की शाम रुदनी ने दम तोड़ दिया। बेटे के अनुसार अलमा देवी ने उसकी मां को त्रिशूल घोंप दिया। अलमा देवी गांव से दो किलोमीटर दूर बसकटिया पहाड़ पर कुटिया बनाकर झाड़फूंक करती थी। उधर, बालूमाथ के मासियातू गांव में अकला भुइयां की पत्नी चंद्रमणि देवी का शव रविवार को एक कुएं से बरामद किया गया। मृतका के पति अकला भुइयां ने चंद्रमणि की हत्या की आशंका जताई है। पति के अनुसार चंद्रमणि तीन दिन पूर्व अपनी बेटी के ससुराल कीता जाने के लिए निकली थी। करीब दो महीने पहले उसका एक ग्रामीण से विवाद हुआ था। वह चंद्रमणि को डायन बता कर उससे झगड़ा कर रहा था। चंद्रमणि के बेटे ने बताया कि कई ग्रामीण अकला को ओझा और चंद्रमणि को डायन बता कर प्रताड़ित करते थे। थाना प्रभारी सुभाष कुमार पासवान ने कहा कि मामले की जांच के बाद ही इस पर कुछ कहा जा सकता है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

Recent Posts

%d bloggers like this: