October 21, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

नौबतपुर में एक करोड़ की नकली दवाएं बरामद, मकान मालिक गिरफ्तार, गोदाम सील

पटना :- नौबतपुर पुलिस ने तीन दवा कंपनियों के नामों से बनायी जा रही नकली दवाएं बरामद की हैं। बरामद दवाओं की कीमत एक कराेड़ है। नकली दवाएं बनाने का काम नौबतपुर के मोतीपुर गांव स्थित ब्रह्मदेव साव के मकान में हो रहा था।

पुलिस ने वहां छापेमारी कर बहुराष्ट्रीय कंपनी जाइडस कैंडिला, मकडोलस व डाबर के नामों से बनायी गयी नकली दवाएं बरामद कीं। पुलिस ने जाइडस कैडिला के नाम वाली स्किन लाइट क्रीम के 30,000 खाली ट्यूब, 650 टॉक्सिम कस रैपर, स्किन लाइट के 4500 भरे ट्यूब, 4350 पीस डाबर का दंत मंजन, 1100 खाली बोतलें बरामद की हैं। पुलिस मामले की छानबीन करने में जुटी है। धंधेबाज मुकेश फरार हो गया है, जबकि मकान मालिक ब्रह्मदेव साव को पुलिस ने हिरासत में लिया है। उससे पूछताछ की जा रही है।

मुकेश करता था नकली दवाओं का कारोबार

ब्रांड प्रोटेक्शन सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड के एमडी मुस्तफा हुसैन ने बताया कि इन तीनों कंपनियों से बराबर शिकायत मिल रही थी। इसके बाद एक टीम का गठन कर मामले में जांच करायी गयी। तब पता चला कि कई महीनों से नौबतपुर थाने के मोतीपुर गांव स्थित ब्रह्मदेव साव के मकान से यह कारोबार चल रहा है।

इसके बाद टीम ने जब और जानकारी जुटायी तो इसके संचालक का नाम पता चला. इस धंधे का संचालन दुल्हिनबाजार थाने के सिघाड़ा कोपा गांव का मुकेश कुमार करता था. इसके बाद ब्रांड प्रोटेक्शन सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड व पुलिस ने संयुक्त रूप से छापेमारी की. इस दौरान पूरे गोदाम और दुकान की तलाशी ली गयी और बड़ी संख्या में नकली दवाएं बरामद की गयीं. साथ ही कई रैपर, खाली डब्बे भी बरामद किये गये.गोदाम को सील कर दिया है.

Recent Posts

%d bloggers like this: