October 28, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पुणे में 12 बिहारी मजदूरों की मौत पर मंत्री विनोद सिंह का विवादित बयान

पटना:- बिहार में राजगार की कमी नहीं, लोग राजगार के लिए लोग राज्‍य से बाहर शौक से जाते हैं। ऐसा हम नहीं, बीहार के अति-पिछड़ा कल्याण मंत्री विनोद सिंह कह रहे हैं। वे महाराष्ट्र के पुणे में दीवार गिरने से 12 बिहारी मजदूरों की मौत के संदर्भ में बोल रहे थे। पुणे की उक्‍त घटना के बाद बिहार में रोजगार की कमी को लेकर सवाल खड़ा हो गया है। मंत्री ने इसी को लेकर विवादित बयान दिया, जिससे सरकार विपक्ष के निशाने पर आ गई है। मंत्री विनोद सिंह पहले भी विवादित बयान देते रहे हैं।

बिहार में रोजगार की कमी नहीं, पहले से कम हो रहा पलायन

मंत्री विनोद सिंह ने कहा कि राज्‍य से पहले जितना पलायन होता था, अब नहीं हो रहा है। बिहार में राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) की सरकार ने रोजगार के अवसर बढ़ाए हैं। यहां रोगार की कमी नहीं। कुछ लोग गरीबी नहीं, शौक से भी बाहर चले जाते हैं। मंत्री ने कहा कि पुण्‍ो में जिन बिहारी मजदूरों की मौत हुई है, वे बिहार में एनडीए की सरकार बनने के पहले से वहां पर थे।

मंत्री के बयान पर आरजेडी ने उठाए सवाल

मंत्री विनोद सिंह के विवादित बयान पर आरजेडी नेता शक्ति यादव ने कहा कि उनकी (मंत्री की) बुद्धि कमजोर है। उनको दिखाई नहीं दे रहा कि बेरोजगारी का क्‍या आलम है। लोगों को बिहार में रोजगार मिले तो वे बाहर क्यों जाएंगे?

दीवार गिरने से हुई थी मजदूरों की मौत

विदित हो कि शुक्रवार को महाराष्ट्र के पुण्‍ो में भारी बारिश के दौरान एक निर्माणाधीन इमारत के पास 22 फीट ऊंची दीवार मजदूरों पर गिर गई। हादसे में बिहार के कटिहार के 12 मजदूरों की मौत हो गई थी।

Recent Posts

%d bloggers like this: