October 21, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

झारखंड में वज्रपात से चार की मौत कई घायल

राँची : – शुक्रवार को राज्य के अलग-अलग हिस्सों में हुई वज्रपात की घटनाओं में चार लोगों की मौत हो गई, जबकि कई लोगों के झुलस जाने की खबर हैं। वहीं कुछ मवेशियों की भी मौत हुई है। देवघर के सारवां मोहलीडीह में अपने घर के बाहर खड़े मुकेश तुरी (35) अपने छह साल के बेटे बबलू तूरी (6 वर्ष) के साथ वज्रपात की चपेट में आ गए। इस हादसे में मुकेश की मौके पर मौत हो गई, जबकि उसके बेटे बबलू की हालत गंभीर बनी हुई है।
एक अन्य घटना में देवघर के ही पालोजोरी में जीवनाबांध पंचायत के कुरुवा गांव में वज्रपात से छोटेलाल यादव नामक एक युवक की मौत हो गई। अपराह्न लगभग तीन बजे वह घर के बाहर चापाकल पर हाथ धोने गया था, इसी बीच वज्रपात की चपेट में आ गया। उधर गुमला के रायगढ़ में सुरसांग थाना के मोकरा डोंगइतटोली गांव में वज्रपात से 45 वर्षीय चुन्नु नगेशिया की मौत हो गई। घटना के वक्त वह खेत में काम कर रहा था।
वहीं चतरा के टंडवा थाना क्षेत्र के ग्वालटोली निवासी 32 वर्षीय खुशी यादव शाम में गाड़ी से सीमेंट उतारते वक्त वज्रपात की चपेट में आ गया। मौके पर ही उसकी मौत हो गई। रामगढ़ में गोला थाना क्षेत्र के चोकाद गांव में महिला ममता देवी और युवक भंदु महतो वज्रपात से गंभीर रूप से घायल हो गए। प्रारंभिक चिकित्सा के बाद दोनों को रिम्स रांची रेफर कर दिया गया। वहीं गुमला जिले के सिसई थाना के लोहनजरा निवासी सादिक अंसारी घर में ही वज्रपात की चपेट में आकर गंभीर रूप से झुलस गए।
रामगढ़ में गिद्दी के होसिर- पुरनाडीह टोला में वज्रवात से चुरामन महतो, हीरालाल महतो व शंभू महतो का मचान जलने की खबर है। दूसरी ओर गढ़वा से मिली जानकारी के अनुसार दोपहर में भवनाथपुर के घाघरा गांव में शुक्रवार की दोपहर तेज बारिश के साथ वज्रपात होने से एक ही पेड़ के नीचे बैठे सात पशुओं में से पांच की मौत हो गई, जबकि दो गंभीर रूप से घायल हो गए। गढ़वा में ही एक अन्य घटना में चिनियां थाना क्षेत्र के चिरका गांव में वज्रपात से दो भैसों की मौत हो गई। यहां भी दो मवेशी घायल हो गए।

Recent Posts

%d bloggers like this: