October 20, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

डोक नदी में डूबने से युवक समीर की मौत


किशनगंज:- गुरुवार को पहाड़कट्टा थाना क्षेत्र के छत्तरगाछ बाजार निवासी 18 वर्षीय युवक समीर की डोक नदी में नहाने के क्रम में डूबने से मौत हो गई। जिससे मृतक के घर में मातमी सन्नाटा छाया हुआ है। माता पिता सहित परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। प्राप्त जानकारी के अनुसार गुरुवार दोपहर को समीर साह 18वर्ष तथा मो. राजा 14 वर्ष नहाने के लिए सातमेढ़ी डोक नदी घाट पर गए थे। नहाने के क्रम में दोनों लड़के गहरे पानी में चले गए और डूबने लगे। उसी समय नदी के दूसरे छोर पर खड़े सातमेढ़ी गांव निवासी शाम मोहम्मद की नजर दोनों लड़कों पर पड़ी।
उन्होंने मानवता का परिचय देते हुए दोनो युवक को बचाने हेतु नदी में कूद पड़े और किसी तरह मो. राजा को नदी से बाहर निकाले। दोबारा जब समीर को नदी से बाहर निकलने के लिए उतरे तो उस समय तक काफी देर हो चुकी थी। इस दौरान समीर साह गहरी पानी में डूब गया। वहीं समाज सेवी मो. नजरूल इस्लाम ने स्थानीय गोतखोरों की मदद से नदी में समीर की खोजबीन शुरू की और लगभग 45 मिनट बाद गोतखोरों ने समीर को नदी से खोजकर बाहर निकाला तथा आननफानन में रेफरल अस्पताल छत्तरगाछ ले जाया गया। जहां मौके पर मौजूद डॉ. शब्बीर अहमद ने प्राथमिक उपचार के बाद समीर को मृत घोषित कर दिया। इधर जवान बेटे की मौत की खबर सुनते ही मां नूरी खातून और पिता इसराफिल साह के पैरों तले जमीन खिसक गई और बेटे के शव से लिपटकर चीख-चीखकर रोने लगी। बताते चलें कि मृतक समीर मुम्बई के वासी फ्रूट मार्केट में रहकर फल बेचता था। कुछ दिन पहले ही वह ईद की नमाज पढ़ने के लिए घर आया था। मृतक इसराफिल के पांच पुत्र में मृतक समीर तीसरा पुत्र था। समीर की असमायिक मौत से परिजनों सहित गांव में शोक का माहौल व्याप्त है। इधर स्थानीय मुखिया मो. अबुल कासिम, समाज सेवी मो. नजरूल, राजकुमार कर्मकार ने मृतक के घर पहुंच कर शोकाकुल परिवार को ढांढस बंधाया और सरकारी स्तर पर मिलने वाले लाभ, दिलाने का हर संभव भरोसा दिलाया।

Recent Posts

%d bloggers like this: