October 24, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

नौगछिया जमीन विवाद में वृद्ध को पिट पिट कर मार डाला

भागलपुर :- पुलिस जिला नौगछिया के खरीक थाना क्षेत्र के तुलसीपुर में जमीन विवाद में कुनाय यादव उर्फ कुंदेश्वरी यादव (80 वर्ष) की लाठी-डंडे से पीट-पीटकर हत्या कर दी गयी। सोमवार दोपहर आरोपी जबरन शव भी उठाने नहीं दे रहे थे। सूचना पाकर खरीक पुलिस गांव पहुंची और शव को अपने कब्जे में लेकर अनुमंडलीय अस्पताल में पोस्टमार्टम कराया।साथ ही पुत्रबधु के बयान पर पीट-पीटकर हत्या करने का मामला दर्ज कर लिया है । वहीं दूसरे पक्ष ने भी मारपीट करने का आरोप लगाते हुए थाने में आवेदन दिया है।

लोगों ने बताया कि रविवार दोपहर में गांव के गोपाल यादव से टटिया लगाने को ले विवाद हुआ था। इसके बाद महिलाओं के बीच मारपीट हो गयी। उसके बाद वे लोग थाना चले गये। मृतक वृद्ध के पुत्र विनोद यादव ने बताया कि सरपंच को आवेदन दिया तो खरीक पुलिस को फोनकर घटनास्थल पर आने को कहा गया। पुलिस नौ बजे रात में आयी और चली गयी।

पुलिस के जाने के बाद गोपाल यादव, प्रकाश यादव, विलक्षण यादव, भरतखंड के राजू यादव व गणेशपुर दादपुर के मिठू यादव ने घर पर धावा बोल दिया और मारपीट करने लगे। हमलोग डर के मारे भाग गये और सरपंच को सूचना दी। सरपंच ने फिर पुलिस को फोन किया, लेकिन पुलिस ने फ़ोन रिसिव नहीं किया । इस बीच आरोपियों ने लाठी-डंडा से मारकर पिता को अधमरा कर दिया। उन्हें देर रात खरीक पीएचसी में भर्ती कराया गया। सोमवार सुबह 10 बजे पीएचसी से घर लाया और दोपहर में उनकी मौत हो गयी।

समय पर आती पुलिस तो बच जाती जान

विनोद यादव ने कहा कि अगर पुलिस समय पर आ जाती तो मेरे पिता की हत्या नहीं होती। वहीं विनोद यादव की पत्नी कल्पना देवी के आवेदन पर खरीक थाने में पीट-पीटकर हत्या करने की प्राथमिकी दर्ज की गयी। इसमें सात लोगों को आरोपी बनाया गया है। साथ ही शव को घर से करीब चार घंटे तक बाहर नहीं निकालने देने का आरोप लगाया। सोमवार की शाम शव पोस्टमार्टम कराया गया। खरीक थानाध्यक्ष ने बताया कि जमीन विवाद में वृद्ध की हत्या की गयी है। सरपंच ने बताया कि रविवार को जमीन विवाद में मारपीट हुई थी। गंभीर रूप से घायल होने पर कुनाय यादव की सोमवार को मौत हो गयी।

दूसरे पक्ष के लोगों ने भी मारपीट करने का आरोप लगाया है। पुलिस को दिये आवेदन में गोपाल यादव ने कहा है कि मारपीट में बहन लूखरी देवी का सिर फट गया है। उसे चिकित्सकों ने भागलपुर रेफर कर दिया है। उसने वृद्ध कुनाय यादव के पुत्र विनोद यादव समेत चार लोगों को आरोपी बनाया है। कहा है कि फूस का टटिया लगाने को लेकर मारपीट हुई थी।

Recent Posts

%d bloggers like this: