October 26, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

तीन साल पहले बाढ़ में टूटी सड़क आज तक नहीं बनी ।

किशनगंज :- दो पंचायतों की सीमा सहित तीन मुख्य सड़कों को जोड़ने वाली लगभग तीन किमी कच्ची सड़क इन दिनों अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही है। फलतः उक्त सड़क पर पिछले तीन वर्षो से आवागमन प्रभावित हो रहा है। पोठिया प्रखंड क्षेत्र के अंतर्गत किशनगंज-ठाकुरगंज पीडब्लूडी मुख्य पथ स्थित सैठाबाड़ी मदरसा से कस्बाकलियागंज और सारोगोड़ा पंचायत के सीमाओं को जोड़ता है। यही नहीं इस सड़क की एक और भी खासियत है कि यह तीन मुख्य सड़क किशनगंज-ठाकुरगंज पीडब्लूडी पथ, चिचुआबाड़ी रायपुर प्रधानमंत्री सड़क व चिचुआबाड़ी इस्लामपुर मुख्य सड़क को जोड़ती है। इतनी महत्वपूर्ण सड़क आज जनप्रतिनिधियों व प्रशासन की उपेक्षा का शिकार है
स्थानीय लोगों ने बताया कि वर्ष 2016 में आई भीषण बाढ़ की चपेट में आने से सड़क पर बना ह्यूम पाईप कल्वर्ट पूरी तरह से ध्वस्त हो गया था। लेकिन तीन वर्ष बीत जाने के बाद भी सड़क मरम्मत कार्य नही हो पाया है। फिर वर्ष 2017 के अगस्त माह में आई बाढ़ में सड़क बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया । सड़क जगह-जगह कट चुकी है। सड़क पर बना कल्वर्ट पानी के तेज बहाव मे ध्वस्त हो गया है। हालांकि उक्त सड़क को प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत पक्कीकरण कराने को लेकर कई दफा स्थानीय विधायक से गुहार लगाई गई है। लेकिन आज तक इस दिशा में कोई सकारात्मक पहल करते नहीं देखा जा रहा है। ज्ञात हो कि यह सड़क बुढ़नई, छत्तरगाछ, कोल्था, रायपुर तथा भोटाथाना पंचायत के दर्जनों गांव के हजारों की आबादी के लिए बाई पास मानी जाती है। यदि सड़क का पक्कीकरण कार्य हो जाए तो उक्त पंचायत के हजारों लोगों को इसका लाभ मिल सकता है । और चिचुआबाड़ी चौक में प्रत्येक दिन लगने वाले जाम से भी छुटकारा मिल जाएगा तथा लोगों का संपर्क प्रखंड मुख्यालय से सीधा जुड़ जाएगा

Recent Posts

%d bloggers like this: