October 24, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

झारखंड मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी का रेलवे, एय़रपोर्ट, रेलवे पुलिस, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल, झारखंड पुलिस, आयकर विभाग आदि के पदाधिकारियों के साथ बैठक।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी का रेलवे, एय़रपोर्ट, रेलवे पुलिस, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल, झारखंड पुलिस, आयकर विभाग आदि के पदाधिकारियों के साथ बैठक, मतदाता जागरुकता कार्यक्रम में तेजी लाने पर हुआ विचार-विमर्श
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, झारखंड के रांची स्थित कार्यालय में आज दिनांक 19 अप्रैल 2019 को लोकसभा चुनाव की तैयारियों के सिलसिले में रेलवे, बैंक, एयरपोर्ट, रेलवे सुरक्षा बल, आयकर विभाग आदि के अधिकारियों की बैठक हुई. बैठक में मतदाता जागरूकता को लेकर स्वीप के तहत चल रहे कार्यक्रमों को और तेज गति से चलाने पर विचार-विमर्श हुआ. श्री एल खियांग्ते, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने संबंधित विभागों के पदाधिकारियों को निर्वाचन विभाग के साथ समन्यव बनाकर कार्य करने को कहा, ताकि मतदान प्रतिशत को बढ़ाने के भारत निर्वाचन आयोग के द्वारा किए जा रहे प्रयासों को गति मिल सके. बैठक में श्री विनय कुमार चौबे, अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, डॉ मनीष रंजन, अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, श्री संजय आनंद लाटकर, पुलिस महानिरीक्षक सह नोडल अफसर, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल और श्री आशीष बत्रा, पुलिस महानिरीक्षक सह नोडल अफसर, झारखंड पुलिस मौजूद थे.
स्वीप के तहत चले करे कार्यक्रमों में और लाएं तेजी
श्री खियांग्ते ने बैठक में मौजूद विभिन्न विभागों के पदाधिकारियों को कहा कि मतदाता जागरुकता को लेकर स्वीप के तहत चल रहे कार्यक्रमों में और तेजी लाया जाए, ताकि मतदाताओं की चुनाव प्रक्रिया में भागीदारी सुनिश्चित हो सके. उन्होंने इस संदर्भ में पोस्टर, बैनर, सिग्नेचर कैंपेन, नुक्कड़ नाटक, गीत-नाट्य आदि का इस्तेमाल करने को कहा ताकि मतदाताओं को मताधिकार के इस्तेमाल के प्रति जागरुक किया जा सके. उन्हें अपने- अपने विभागों में नोडल अफसर की नियुक्ति के साथ वोटर अवेयरनेस फोरम के गठन का भी निर्देश दिया गया.
सी-विजिल एप्प के इस्तेमाल की दें जानकारी
श्री खियांग्ते ने बताया कि स्वतंत्र व निष्पक्ष चुनाव संपन्न कराने के लिए भारत निर्वाचन आयोग की ओर से कई कदम उठाए गए हैं. इस सिलसिले में आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत कोई भी सी-विजिल एप्प के माध्यम से दर्ज करा सकता है. उन्होंने बैठक में मौजूद पदाधिकारियों को कहा कि वे अपने-अपने विभागों, संस्थाओं और आसपास के इलाकों में लोगों को सी-विजिल के बारे में बताएं, ताकि किसी तरह के भी आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन का मामला अगर उनके संज्ञान में आए तो तुरंत वे इसकी शिकायत सी-विजिल एप्प के माध्यम से दर्ज करा सकें.
वोटर हेल्पलाइन एप्प का हो ज्यादा से ज्यादा उपयोग
श्री खियांग्ते ने कहा कि मतदाताओं की सहूलियत के लिए भारत निर्वाचन आयोग की ओर से इंफॉमेर्शन टेक्नोलॉजी के ज्यादा से ज्यादा अप्लीकेशंस का इस्तेमाल किया जा रहा है, ताकि मतदाताओं को जागरुक करने के साथ मतदान प्रतिशत को भी बढ़ाया जा सके. उन्होंने कहा कि वोटर हेल्पलाइन एप्प पर कोई भी व्यक्ति मतदाता सूची में अपना नाम दर्ज कराने, अड्रेस परिवर्तन औप किसी भी प्रकार की अन्य त्रृटियों को दूर करने के लिए आवश्यक जानकारी प्राप्त कर सकता है. इस एप्प को एंड्रायड मोबाइल फोन के प्ले स्टोर और आईफोन से डाउनलोड किया जा सकता है.
दिव्यांग मतदाताओं की भागीदारी बढ़ाने पर जोर
श्री खियांग्ते ने बताया कि दिव्यांग मतदाताओं की निर्वाचन-2019 में सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए निर्वाचन आयोग के निर्देश पर कई सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है. इसके अंतर्गत मतदान के दिन उन्हें घर से मतदान केंद्र तक लाने- ले जाने के लिए निः शुल्क वाहन सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी. इस बाबत आयोग की ओर से इस सुविधा के इस्तेमाल को लेकर एप्प लांच किया गया है. बैठक में मौजूद पदाधिकारियों को कहा गया कि वे दिव्यांग मतदाताओं की सहूलियत के लिए लांच एप्प के बारे में ज्यादा से ज्यादा दिव्यांगों के बीच प्रचार करें, ताकि वे इस सुविधा का फायदा ले सकें।

Recent Posts

%d bloggers like this: