November 1, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सोशल मीडिया पर चुनाव से 48 घंटे पहले लग सकता है रोक

ये बात तो जग जाहिर है की आगामी लोक सभा की चुनाव की तैयारी में भारत भर की राजनितिक पार्टियां जोड़ शोर से लगी हुई है | चुनाव प्रचार का हर संभव तरीका अपनाया जा रहा है जिसे जो हथकंडा सूझ रहा है, वो अपने  हिसाब से उपयोग कर रहा है | हम आपको बता दे की सोशल मीडिया से  हमारा यहाँ मतलब फेसबुक,ट्विटर, लिंक्डइन और तमाम ऐसी साइट्स से है जिसका उपयोग कर के हम दुनिया भर के लोगो के साथ जुड़ पाते हैं | आजकल बड़े पैमाने पर इन सभी वेबसाइट पर सभी राजनीतिक दल अपना अपना प्रचार कर रही है | लेकिन  ताज़ा खबरों के मुताबिक चुनाव आयोग इन राजनितिक  पार्टियों से सम्बंधित सभी प्रकार के प्रचार पर रोक लगाना चाह रही है | चुनाव आयोग ने  भारतीय संबिधान के सेक्शन 126 के  दायरे में  विस्तार के लिए क़ानून मंत्रालय को चिट्ठी लिख कर अपनी मांग रखा है | आपके जानकारी के लिए बता दे की भारतीय संविधान के सेक्शन 126 के मुताबिक किसी भी प्रकार के प्रिंट मीडिया या टीवी में चुनावी प्रचार को रोकना पड़ता है | भारत में सोशल मीडिया के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए  चुनाव आयोग को यह डर है की सोशल मीडिया का उपयोग कर के लोगो को प्रभावित करने का काम किया जा सकता है | इसलिए बांकी सभी प्रकार की मीडिया के साथ साथ सोशल मीडिया पर भी बिलकुल उसी प्रकार का क़ानून चुनाव आयोग लाना चाहती है | हमारे आपके जैसे आम नागरिको को इससे भयभीत होने की आवश्यकता नहीं है , हम अपना फेसबुक, व्हाट्सप्प इत्यादि पहले की तरह ही यूज़ कर रहे होंगे बस हमें चुनाव के 48 घंटे पहले से किसी भी  प्रकार का चुनावी प्रचार  देखने को नहीं मिलेगा |  

Recent Posts

%d bloggers like this: