October 22, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

शिव गुरू महोत्सव, बाढ़,पटना।

शहीदों को श्रद्धांजलि के साथ शुरू हुई शिव गुरु चर्चा।

दो मिनट का मौन और देश के साथ खड़े होने का जज़्बा दिखा शिव शिष्यों में।

शिव शिष्य परिवार के द्वारा बाढ़ कचहरी के समीप गीतांजलि उच्च विद्यालय के पवित्र प्रांगण में शिव गुरु महोत्सव का आयोजन किया गया। शिव गुरु महोत्सव का आरंभ पुलमावा में शहीद हुए चालीस जवानों को श्रद्धांजलि देने के साथ हुआ। उनकी शहादत को दो मिनट के मौन के साथ याद किया गया। मुख्य वक्ता अनुनीता ने कहा कि संकट की इस घड़ी में शिव के शिष्य उनके परिजनों के साथ हैं। हम सभी देश के साथ खड़े हैं। इस कार्यक्रम में आओ चलें शिव की ओर के उद्देश्य को आगे बढ़ाने के लिए लगभग पंद्रह हजार से अधिक लोग एकत्रित हुए थे। इस विराट शिव गुरु महोत्सव में पटना से आई अनुनिता ने कहा कि शिव विसंगतियों में संगति हैं। शिव की बनाई हुई दुनियां में कोई भेद नही है। उनका शिष्य होकर ही हम अपने जीवन में आगे बढ़ सकते हैं।

डॉक्टर अमित कुमार ने कहा कि शिव के शिष्य बनने की दिशा में साहब हरींद्रानंद जी द्वारा दिया गया तीन सूत्र ही सहायक है और कुछ नही। उन्होंने कहा कि वे जगत गुरु हैं इसलिए उनका शिष्य होने के लिए कोई नियम नही है और कोई वर्जना भी नही है। ब्रजेश सिंह,अनिल ,राधाकांत, प्रमोद पासवान के साथ साथ मिथिलेश कुमार और अन्य लोगों ने भी अपने विचारों को रखा। उपस्थित लोगों में महिलाओं की संख्या काफी अधिक थी। पूरा का पूरा इलाका शिवमय हुआ था। शिव गुरु की व्याप्ति और फैलाव के निमित्त इस कार्यक्रम में स्थानीय लोगो ने भी हिस्सा लिया।

Recent Posts

%d bloggers like this: