अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

रिम्स कैंपस से 18 मेडिकल छात्रों को निकाला गया
सीनियर-जूनियर स्टूडेंट्स के बीच मारपीट की घटना के बाद कार्रवाई


रांची:- रिम्स में सीनियर-जूनियर स्टूडेंट्स के बीच मारपीट की घटना को लेकर वहां के 18 मेडिकल छात्रों को हॉस्टल से बाहर निकलने का आदेश दिया गया है। सभी को 18 अक्टूबर तक हॉस्टल खाली करने को कहा गया है। आदेश के अनुसार पांच मेडिकल छात्र एक साल के लिए हॉस्टल से बाहर रहेंगे, जबकि 13 को तीन महीने के लिए बाहर किया गया है। सजा पाए छात्रों को न तो हॉस्टल में मेस की सुविधा मिलेगी और न ही अपने क्लासमेट के साथ रूम शेयर करने की अनुमति होगी।
आदेश के बाद पांच मेडिकल छात्र एक साल के लिए हॉस्टल से बाहर रहेंगे, जबकि 13 को तीन महीने के लिए बाहर किया गया है। इतना ही नहीं उन्हें न तो हॉस्टल में मेस की सुविधा मिलेगी और न ही अपने क्लासमेट के साथ रूम शेयर करने की अनुमति होगी।
उल्लेखनीय है कि चार सितंबर को रिम्स में जूनियर और सीनियर डॉक्टर्स आपस में ही भिड़ गये थे। इस मामले में जांच कमिटी ने गत दिनों अपनी रिपोर्ट सौंप दी थी। इसके बाद ही कार्रवाई करने का आदेश दिया गया है। चार सितम्बर को सीनियर और जूनियर डॉक्टर्स के बीच मारपीट हुई थी। इस दौरान हॉस्टल नंबर एक, दो, तीन, चार और सात स्टूडेंट्स आपस में भिड़ गये थे। बताया जाता है कि 2019 के स्टूडेंट्स की परीक्षा खत्म होने के बाद जूनियर पार्टी कर रहे थे। जिससे सीनियर स्टूडेंट्स को परेशानी हो रही थी और विरोध किया था। इसी को लेकर सीनियर और जूनियर डॉक्टर्स भिड़ गये थे। जिसके बाद रिम्स हॉस्टल को छावनी में तब्दील कर दिया गया था।

%d bloggers like this: