अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पश्चिमी चंपारण में 16 लोगों की संदिग्ध हालात में मौत , पांच लोगों को हिरासत में लिया गया

बेतिया:- पश्चिम चम्पारण में लौरिया प्रखंड के देउरवा गांव, रामनगर प्रखंड के जोगिया एवं बगही गांव में कथित जहरीली शराब से आज आठ और लोगों की मौत हो गई। इस प्रकार मौत का आंकड़ा 16 तक पहुंच गया है। इसके बाद हरकत में आए जिला प्रशासन ने घटनास्थल पर पहुंचकर छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस ने इस मामले में पांच लोगों को हिरासत में लिया है। इस बाबत जिलाधिकारी कुंदन कुमार ने बताया कि पीड़ित व्यक्तियों के घर जाकर उनके परिजन एवं ग्रामीणों से पूछताछ हुई है। उन्होंने बताया कि जहरीली शराब से मृत्यु के मामले में देउरवा ग्राम में रामवृक्ष चौधरी (45), प्रदीप साह (65), बिकाऊ साह (45) एवं भगवान पाण्डा (45) जोगिया गांव के सुरेश साह (45), नईम हजाम (55), वशिष्ठ सोनी (35) एवं बगही गांव के रतुल मिस्त्री (55) का नाम आया है।

उसी क्षेत्र से आज आठ और लोगों सबेया ग्राम के भुट्टु मियां (30), तेज मोहम्मद (65) एवं जवाहिर मियां (50), डुमरा गांव के जुलफान मियां (38), ग्राम जोगिया के हीरालाल डोम (45), बसवरिया गांव के अमिरूल साह (28), गबनाहा के इजहारूल अंसारी (45) एवं झुन्ना मियां (35) के मामले संज्ञान में आए हैं। इसकी अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के माध्यम से तत्काल जांच कराई गई।

जांच के क्रम में कुछ मृतकों के परिजनों ने मौत की वजह जहरीली शराब बताई है, जबकि चार मृतकों के परिजनों ने शराब से मौत नहीं स्वीकारी है। कोई मेडिकल पुर्जा भी प्रस्तुत नहीं किया गया है। इस प्रकार कुल 16 लोगों की संदिग्ध हालात में मौत की सूचना मिली है। इसमें से दो मृतकों बिकाउ साह एवं रतुल मिस्त्री की मृत्यु लम्बी बीमारी के कारण होना परिजनों तथा ग्रामीणों से ज्ञात हुआ है। इनके परिजनों के द्वारा मेडिकल पुर्जा भी प्रस्तुत किया गया है।

शेष 14 मृतकों में से चार अन्य मृतकों के परिजनों ने जहरीली शराब पीने से मृत्यु होना स्वीकार किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। इस दौरान पुलिस ने पांच को हिरासत में भी लिया है।

पश्चिमी चंपारण के जिलाधिकारी एवं बेतिया के पुलिस अधीक्षक ने ग्रामीणों से अनुरोध किया है कि अगर किसी को भी लक्षण दिखता है तो उसको छिपाये नहीं, निर्भीक होकर तत्काल मेडिकल टीम को सूचित करें ताकि त्वरित गति से उनका इलाज कराकर उनको ठीक किया जा सके। इसके साथ ही उत्पाद विभाग की टीम स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर पूरे क्षेत्र में अवैध शराब को लेकर लगातार सघन छापेमारी कर रही है। जिलाधिकारी कुंदन कुमार ने इस संदर्भ में कहा है कि उपरोक्त मामले में जो भी दोषी होंगे उनके विरुद्ध विधि-सम्मत कड़ी कार्रवाई की जायेगी।

उप मुख्यमंत्री ने कही यह बात

इस मामले को लेकर उपमुख्यमंत्री रेणु देवी ने बताया कि पश्चिमी चंपारण के एक गांव में संदिग्ध हालात में लोगों की मौत होने की जानकारी मिली है। इस मामले की जांच शुरू कर दी गई है। हालांकि, स्थानीय लोग इस संबंध में कुछ भी बोलने के लिए तैयार नहीं हैं। हम हालात पर बेहद करीब से नजर बनाए हुए हैं।

%d bloggers like this: