June 14, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कोरोना से पलामू से दो महीने में 110 की हुई मौत 2 लाख 80 हज़ार से अधिक व्यक्तियों ने लिया टीका

मेदिनीनगर:- झारखंड के पलामू जिले में कोरोना संक्रमण के दूसरे वेब में 110 लोगों की जान चली गयी, जबकि पिछले वर्ष सिर्फ 20 लोगों की मृत्यु हुई थी।
पलामू के उपायुक्त शशि रंजन ने जूम एप तथा यूट्यूब चैनल के माध्यम से ऑनलाइन संवाद में बताया कि कोरोना का यह वैरिएंट काफी घातक है। लोगों को अपने तथा अपने परिवारजनों के स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहने की जरूरत है। इस ऑनलाइन संवाद का मुख्य उद्देश्य कोरोना से संबंधित चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान तथा टीका लेने के लिए लोगों को जागरूक करना था।
उपायुक्त ने कहा कि अगर किसी में लक्षण दिखाई देता है तो तुरंत कोरोना का जांच कराएं। इसको टाल देने से लोग खुद अपने तथा परिवारजनों के लिए जोखिम मोल लेंगे। कोरोना दो दिनों के अंदर फेफड़ों तक पहुंच जाता है तथा मरीज सांस लेने में दिक्कत होने लगती है। मरीज का ऑक्सीजन लेवल गिर जाता है। जिससे बाद में कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इसी कारण इस वर्ष ऑक्सीजन का डिमांड अचानक से बढ़ गया।
उपायुक्त ने बताया कि दूसरे लहर में ज्यादातर युवा लोग प्रभावित हुए। संभावित तीसरे लहर से बच्चे प्रभावित होंगे। इसलिए हर हाल में पलामू के बच्चों को कोरोना से बचाना है। ऐसे में आवश्यक यह है कि बच्चों के आसपास रहने वाले सभी लोगों का टीकाकरण कर दिया जाए। बच्चों के लिए वैक्सीन अभी नहीं आई है , किंतु 18 वर्ष से ऊपर के लोगों के लिए वैक्सीन उपलब्ध है। जरूरत यह है कि लोग वैक्सीन के प्रति जागरूक हो तथा अपने नजदीकी टीकाकरण केंद्रों पर पहुंचे। हर हाल में तीसरी लहर से पूर्व 18 वर्ष से ऊपर के लोगों का शत-प्रतिशत टीकाकरण करना होगा।
अफवाह तथा भ्रांतियों पर भरोसा करने की जरूरत नहीं है। उपायुक्त ने बताया कि पलामू जिले में अब तक 2 लाख 80 हज़ार से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना का वैक्सीन ले लिया है, सभी सुरक्षित हैं। उन्होंने बताया कि पलामू जिले के 10 हज़ार से अधिक स्वास्थ्य कर्मियों ने भी वैक्सीन ले रखा है। वे वैक्सीन लेकर अस्पताल में आ रहे कोरोना के मरीजों की देखभाल में लगे हुए हैं, सभी स्वास्थ्य कर्मी सुरक्षित हैं। उपायुक्त ने बताया कि वैक्सीन लेने से व्यक्तियों कि प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है ऐसे में कोरोना लोगों पर हावी नहीं होता है। वर्तमान में जिले भर में वैक्सीन ड्राइव चलाया जा रहा है। इसके अंतर्गत 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों को तथा 45 वर्ष से ऊपर के लोगों को वैक्सीन टीकाकरण केंद्रों पर सुरक्षित ढंग से लगाया जा रहा है।
ऑनलाइन संवाद के दौरान उपायुक्त उपस्थित शिक्षकों से भी रूबरू हुए। उपायुक्त ने शिक्षकों से अपील की कि वे अपने आसपास के लोगों, बच्चों के अभिभावकों सहित अन्य लोगों को वैक्सीन लेने हेतु जागरूक करें। इसके अलावा उपायुक्त ने अच्छे ढंग से ऑनलाइन क्लासेज जारी रखने की बात कही। उन्होंने कहा कि कोरोना के कारण स्कूल बंद है। लेकिन बच्चों की पढ़ाई में किसी तरीके की दिक्कत ना हो इस पर ध्यान देने की जरूरत है।
उपायुक्त के द्वारा किए गए ऑनलाइन संवाद के दौरान समाहरणालय के एनआईसी सभागार में उपायुक्त के अलावा प्रशिक्षु आईएएस- सह-सहायक समाहर्ता आशीष अग्रवाल, जिला शिक्षा पदाधिकारी उपेंद्र नारायण, जिला शिक्षा अधीक्षक मारिया गोरेती तिर्की, जिला सूचना एवं विज्ञान पदाधिकारी रणवीर सिंह, डीपीएम हेल्थ दीपक कुमार उपस्थित थे। वही ऑनलाइन माध्यम से सभी प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी, प्रखंड कार्यक्रम पदाधिकारी, प्रखंड कार्यक्रम प्रबंधक, संकुल साधन सेवी, प्रखंड साधन सेवी, अभिभावक तथा छात्र छात्राएं मौजूद थे। ऑनलाइन संवाद का संचालन साथ-ई-कार्यक्रम- सह- पीरामल फाउंडेशन के पलामू प्रभारी श्री नीलेश शर्मा ने किया। इस ऑनलाइन संवाद में कुल 3000 लोग जुड़े थे।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: