नॉमिनेशन के आखिरी दौर में भी राजद और कांग्रेस के बीच मुश्किलें कम होती दिखाई नही दे रही ।

पूर्णिया लोकसभा चुनाव में नॉमिनेशन का आखिरी दौड़ चल रहा है। पूर्णिया में लोकसभा चुनाव की नॉमिनेशन की आखिरी तारीख है 26 मार्च हैं। मात्र दो दिन ही शेष बचे है नॉमिनेशन के लिए ,राजद और कांग्रेस पूर्णिया सीट को लेकर अभी तक असमंजस में है। महागठबंधन में कोई भी पूर्णिया सीट के लिए अपनी दावेदारी अबतक पेश नही किया है। उम्मीदवार अभी तक कुछ भी कहने से परहेज कर रहे है।

अभी तक जो भी महागठबंधन से अपनी उम्मीदवारी पेश कर रहे थे। वो भी पूर्णिया सीट को लेकर कुछ भी नही कह पा रहे है। पूर्णिया के रंगभूमि मैदान में अपनी चुनावी सभा के दौरान भी राहुल गांधी ने किसी भी उम्मीदवार तक का नाम नही लिया। लोगों को तो ये भी पता नही चला कि आखिर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने किस उम्मीदवार के लिए चुनावी सभा को संबोधित किया। जनता तो यहाँ तक कह रही है कि राहुल गांधी का चुनाव प्रचार कम मोदी का दुष्प्रचार ज्यादा था।

महागठबंधन में अभी तक ये स्पष्ट नही हुआ है कि पूर्णिया सीट से कौन उम्मीदवार होगा । सूत्रों की माने तो महागठबंधन में कुछ भी ठीक नही चल रहा है। पूर्णिया की जनता ये जानना चाह रही है कि जब महागठबंधन में सीटों की घोषणा हो चुकी है तो अभी तक प्रत्याशी का नाम क्यों नही क्लियर किया गया है। ऐसे कितने ही सवालों के जबाब का पूर्णिया की जनता को बेसब्री इंतजार है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: